उदयपुर के कोटड़ा में सगाई समारोह के बाद फूड पॉइजनिंग, 3 की मौत, 40 अस्पताल में भर्ती

उदयपुर। कोटड़ा क्षेत्र में सगाई समारोह के बाद फूड पॉइजनिंग से एक महिला सहित तीन लोगों की मौत हो गई, और चालीस से अधिक लोग अस्पताल में भर्ती हैं। इनमें से 22 का इलाज कोटड़ा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जबकि अन्य 18 का उपचार गुजरात के एक अस्पताल में हो रहा है। इस घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है।

घटना का विवरण

सोमवार रात को सावन क्यारा में चतरा पुत्र पूना पारगी के बेटे के सगाई समारोह के बाद सामूहिक भोज का आयोजन किया गया था। इस भोज में वधू पक्ष के बोरड़ी फला और गोदलवाडा से लगभग 100 लोग शामिल हुए थे। भोज के बाद देर रात जब सभी लोग अपने-अपने घर लौटे, तो उनकी तबीयत बिगड़ने लगी।

प्रशासन की त्वरित प्रतिक्रिया

सूचना मिलते ही जनजाति मंत्री बाबूलाल खराड़ी, जिला कलक्टर अरविंद पोसवाल, और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. शंकर बामनिया कोटड़ा अस्पताल पहुंचे। उन्होंने मरीजों से मुलाकात की और वहां के डॉक्टरों से घटना की पूरी जानकारी ली।

पुलिस की जांच

कोटड़ा थानाधिकारी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि भोज के बाद बीमार हुए लोगों को कोटड़ा अस्पताल लाया गया था, जहां तीन की पहले और एक की बाद में मौत हो गई। मृतकों में बोरड़ी खुर्द निवासी बाबू (50) पुत्र चेना, बोदला वाड़ा निवासी मसरू (40) पुत्र जोवना, और सावना क्यारा निवासी अमियादेवी (35) पत्नी दीवा पारगी शामिल हैं।

बीमार लोगों का विवरण

कोटड़ा अस्पताल में भर्ती मरीजों में शामिल हैं:

  • लुकिया पुत्र माला गमार
  • राजू पुत्र लालू
  • विक्रम पुत्र चुन्नीलाल
  • सुमन पुत्री मणिलाल
  • जीतू पुत्र मशरूम गमार
  • प्रकाश पुत्र लाला गमार
  • सवजी पुत्र लडु
  • धर्मा पुत्र रावता गमार
  • भाटिया पुत्र फोजा गमार
  • पिंटू पुत्र गुजरा गमार
  • रामा पुत्र रावता गमार
  • होमली पत्नी लाडू गमार
  • भीमराज पुत्र जोवना गमार
  • प्रकाश पुत्र लालू कुमार
  • कालू पुत्र बदा गमार
  • दला पुत्र शंकर
  • काला पुत्र जोरा
  • रमेश पुत्र हीरा
  • सोम पुत्र लाडू

वर पक्ष के 18 लोगों को सावन क्यारा से सीधे गुजरात के खेडब्रह्मा स्थित अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया। कोटड़ा अस्पताल से भी पांच लोगों को गुजरात रेफर कर दिया गया।

मृतकों की स्थिति

मृतकों के शव मोर्चरी में रखवा दिए गए हैं। पुलिस और चिकित्सा विभाग मिलकर इस घटना की जांच कर रहे हैं ताकि फूड पॉइजनिंग के कारणों का पता चल सके और भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचा जा सके।

इस दर्दनाक घटना ने पूरे क्षेत्र को स्तब्ध कर दिया है और लोगों में भय का माहौल है। प्रशासन इस मामले की गहन जांच कर रहा है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

About Author

Leave a Reply