पंचकर्म चिकित्सा से लौटी मुस्कान : वर्षो पुराने दर्द की मुक्ति से खिले चेहरे, शिविर में 450 पंचकर्म प्रोसीजर


उदयपुर। आयुर्वेद विभाग उदयपुर के आरोग्य समिति राजकीय आदर्श आयुर्वेद औषधालय सिन्धी बाजार उदयपुर में विशाल नि:शुल्क पंचकर्म शिविर का समापन हुआ ।
औषधालय प्रभारी एवं वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी वैद्य शोभालाल औदिच्य ने बताया की शीत ऋतू में ठण्ड की वजह से, अत्यधिक खडे रहने एवं अधिक वजन की वजह से लोगो के जोड़ों के दर्द की समस्या बहुत बढ़ रही है और पंचकर्म जैसी निरापद एवं प्राचीन चिकित्सा पद्धति से स्थाई मुक्ति मिल सकती है।
शिविर में भाग ले रही सिन्धी बाजार निवासी ममता मेहता ने बताया की गर्दन के दर्द से जीना दूभर हो गया था । उपचार ले बाद 80 प्रतिशत लाभ हुआ है ।


तितरडी निवासी पुष्पा देवी औदीच्य ने बताया 1 वर्ष से कमरदर्द से परेशान थी ,खडी रहने में भी परेशानी थी सीडियां चढ़ने में भी परेशानी थी । शिविर में उपचार के बाद 3 दिन में ही आराम आने लगा। सभी काम आराम से करने लग गई हूँ । 90 प्रतिशत तक आराम मिला है ।
गुजरात से आयें अंकित (परिवर्तित) ने बताया की औषधालय में निरंतर एवीएन का उपचार ले रहा हूँ । पहले मुझे मेरे परिजन औषधालय में उठा कर लेकर आये थे। आज मै स्वयं चलकर औषधालय में आ रहा हूँ । मेरा उपचार जारी है ।
शिविर में उपचार ले रही सुशीला ने बताया की घुटनों के दर्द से चलने फिरने कई समस्या थी । मुझे 70 प्रतिशत लाभ मिला है ।
।वैद्यो व स्टाफ की टीम ने वैद्य शोभालाल औदीच्य के नेतृत्व में शिविर में 450 के लगभग पंचकर्म की क्रियाओ से रोगियों को लाभान्वित किया गया ।

जिसमे जोड़ो का दर्द माइग्रेन सायटिका अवस्कुलर

नेक्रोसिस एडी में दर्द फ्रोजन शोल्डर बालों की समस्या का उपचार के लिए विरेचन कर्म बस्तिकर्म नस्यकर्म कटीबस्ती जानुबस्ती ग्रीवाबस्ती सर्वांग स्वेदन स्थानिक अभ्यंग सर्वांग अभ्यंग स्थानिक स्वेदन षष्टिशाली पिंडस्वेद पात्र पिंड स्वेद शिरोधारा शिरोबस्ती धारास्वेदन बस्तीकर्म द्वारा किया गया ।


शिविर में स्थानीय रोगियों के साथ साथ अन्य राज्यों के रोगी भी लाभ ले रहे है । अगला पांच दिवसीय विशाल निशुल्क पंचकर्म चिकित्सा शिविर फरवरी माह में आयोजित होगा जिसका पंजीयन औषधालय समय में किया जायेगा ।

चिकित्सा शिविर में वैद्य शेलेन्द्र शर्मा, वैद्य मिथिलेश शाक्यवाल, वैद्य संजय सोनी, वैद्य अंकिता सियाल, वैद्य पंकज तंवर, वैद्य नितिन सेजू, डॉ आकाश जैन, कम्पाउण्डर शंकरलाल खराडी, नर्स इंदिरा डामोर कंचन कुमार डामोर, चंद्रेश परमार, नर्स वंदना शक्तावत, कम्पाउण्डर कन्हैया लाल नागदा परिचारक गजेन्द्र कुमार आमेटा, लालुराम गमेती, निर्भयसिंह भाटी ने सेवाएं दि ।
यह आयुर्वेद पंचकर्म शिविर नि:शुल्क रूप से 2024 में वर्ष पर्यन्त प्रत्येक माह में आयोजित किया जाएगा। अगला 29 वां शिविर फरवरी माह में आयोजित किया जायेगा । ताकि और अधिक से अधिक लोग इस अद्वितीय चिकित्सा के फायदे ले सके।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *