एजीटीएफ की करौली जिले में कार्रवाई : राजू ठेठ गैंग को हथियार सप्लाई करने वाला बदमाश गिरफ्तार

9 अवैध देशी पिस्टल, 16 मैगजीन व 2 जिंदा कारतूस बरामद

जयपुर। एंटीगैंगस्टर टास्क फोर्स पुलिस मुख्यालय की सूचना पर करौली जिले की कोतवाली थाना पुलिस की टीम ने अवैध हथियारों के सप्लायर गांव रुंध का पूरा थाना सदर हिंडौन निवासी गोविंद मीना पुत्र अमृतलाल (19) को गिरफ्तार कर 9 देशी पिस्टल 16 मैगजीन व 2 जिंदा कारतूस बरामद किये है।
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस क्राइम एंड एजीटीएफ श्री दिनेश एमएन ने बताया कि टीम सदस्य हेड कांस्टेबल हेमन्त शर्मा को सूचना मिली थी कि गोविंद मीना शेखावाटी क्षेत्र की राजू ठेठ गैंग (RTG) को अवैध हथियारों की सप्लाई करता है। सूचना पर आईजी प्रफुल्ल कुमार के पर्यवेक्षण एवं एडिशनल एसपी आशाराम चौधरी के सुपरविजन तथा इंस्पेक्टर राम सिंह नाथावत के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल हेमंत शर्मा, रामनिवास, कमल सिंह, शंकर दयाल कांस्टेबल भूपेंद्र शर्मा, देवेंद्र सिंह एवं चालक विश्राम की टीम गठित की गई।
गठित टीम द्वारा सूचना को विकसित किया गया तो जानकारी मिली कि आरोपी ने करौली जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र में स्टेडियम के सामने स्थित मीरा कॉलोनी में किराए से कमरा ले रखा है। कमरे पर अगर दबिश दी जाए तो भारी मात्रा में अवैध हथियार बरामद हो सकते हैं। इस सूचना से टीम ने कोतवाली थाना पुलिस को अवगत कराया। थाना पुलिस की टीम द्वारा तुरंत ही दबिश दे गई।
आरोपी के कमरे के नजदीक मंडरायल रोड पर एक युवक बैग लेकर और उसके तीन साथी पास में खड़े थे। पुलिस टीम को देखते ही सभी इधर-उधर भागने लगे। घेर कर पुलिस ने हाथ मे बैग लेकर भागे बदमाश गोविंद मीना को दबोच लिया। बैग की तलाशी ली गई तो उसमें 9 देशी पिस्टल मय मैगजीन, 7 अतिरिक्त मैगजीन व 2 जिंदा कारतूस मिले। इस पर थाना पुलिस ने आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। भागने वाले आरोपी शिवकेश मीणा व विजय मीणा पुत्र पप्पू निवासी थाना लांगरा सगे भाई है। तीसरा छुट्टन मीणा थाना कुड़गांव निवासी है।
गिरफ्तार बदमाश गोविंद मीना मध्य प्रदेश के स्थानीय तस्करों से भारी मात्रा में अवैध हथियार लाकर शेखावाटी की गैंग को हथियार सप्लाई करने के साथ लूट और डकैती की घटनाओं में भी शामिल रहा है। इसके विरुद्ध पहले भी कई आपराधिक मामले विभिन्न थानों में दर्ज हुए हैं। थाना पुलिस की टीम आरोपी से हथियार कहां से लाया और इसके साथ और कौन-कौन लोग शामिल हैं। इस संबंध में गहनता से पूछताछ कर रही है।
एडीजी श्री एमएन ने बताया कि इस कार्रवाई में हेड कांस्टेबल हेमन्त शर्मा की विशेष भूमिका एवं हेड कांस्टेबल रामनिवास एवं कांस्टेबल भूपेंद्र शर्मा व देवेंद्र सिंह की तकनीकी भूमिका रही है। टीम में हेड कांस्टेबल कमल सिंह, शंकर दयाल शर्मा एवं चालक विश्राम शामिल है। टीम का नेतृत्व इंस्पेक्टर राम सिंह नाथावत द्वारा किया गया।
————-

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *