प्रमुख शासन सचिव ने किया जगदीश मंदिर, बर्ड पार्क का दौरा : गुलाब बाग को टूरिस्ट हब बनाने पर हुई चर्चा

मूब-बधिर बच्चों का बढ़ाया हौंसला


उदयपुर। पर्यटन, कला व संस्कति विभाग की प्रमुख शासन सचिव गायत्रा राठौड़ ने अपनी उदयपुर यात्रा के दूसरे दिन शनिवार को शहर के विभिन्न पर्यटन स्थलों का दौरा कर यहां चल रहे कार्यों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होने जगदीश मंदिर जीर्णोद्धार कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए वहीं कई दर्शनीय स्थल होने से गुलाब बाग को टूरिस्ट हब के रुप में प्रचारित करने के विचार पर भी चर्चा की। उन्होने मूक बधिर विद्यालय के पूर्व छात्र सम्मेलन में भी अतिथि के रूप में भाग लिया।


पर्यटन विभाग की उप निदेशक शिखा सक्सेना ने बताया कि प्रमुख शासन सचिव जगदीश मंदिर पहुंची जहां पर 70 लाख की लागत से चल रहे जीर्णोद्धार कार्यों का निरीक्षण किया। यहां पर मंदिर शिखर से पेड़ हटाकर उनकी जड़ों का उन्मूलन, संगमरमर की सफाई, दरारें भरना, पत्थरों पर रासायनिक परत चढ़ाना, सीसीटीवी कैमरे, टफन ग्लास, आयरन रेलिंग आदि कार्य किये जा रहे हैं। राठौड़ ने इसी माह सभी कार्य पूर्ण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इस अवसर पर उनके साथ पुरातत्व व संग्रहालय विभाग के वृत्त अधीक्षक सोहनलाल शर्मा, सहायक अभियंता अनिल मित्तल, देवस्थान विभाग के अधिकारी व मंदर ट्रस्ट के पदाधिकारी उपस्थित थे।
टूरिस्ट हब के रूप में गुलाब बाग का हो प्रचार-प्रसार
सक्सेना ने बताया कि राठौड़ ने गुलाब बाग स्थित बर्ड पार्ट का निरीक्षण भी किया। पार्क के विकास के लिए पर्यटन विभाग ने 8 करोड़ रुपए दिए हैं। राठौड़ ने यहां पर लाये गए पक्षियों की प्रजातियों के बारे में जानकारी ली और विभिन्न प्रजाति के पक्षियों को यहां रखने के निर्देश दिए। उन्होने गुलाब बाग के अंदर अवस्थित नवलखा महल सांस्कृतिक केंद्र का अवलोकन भी किया। यह भवन कभी महाराणा सज्जन सिंह जी का अतिथिगृह था।

प्रसिद्ध समाज सुधारक महर्षि दयानंद सरस्वती ने अपने विख्यात ग्रंथ सत्यार्थ प्रकाश की रचना यहीं पर की थी। वर्तमान में इसे श्रीमद् दयानंद सत्यार्थ प्रकाश न्यास ने एक सुंदर सांस्कृतिक केंद्र के रूप में विकसित किया है। राठौड़ ने इसे नई पीढ़ी को सांस्कृति दिशाबोद देने वाला केंद्र बताया और प्रशंसा की। सत्यार्थ प्रकाश न्यास पर न्यास के अध्यक्ष अशोक आर्य ने स्वागत किया। इस अवसर पर विनोद राठौड़, रविंद्र राठौड़ और न्यास के सहयोगी उपस्थित थे। गुलाब बाग अपने आप में दर्शनीय स्थल है वहीं यहां पर बर्ड पार्क, बच्चों की ट्रेन, नवलखा महल, सरस्वती लाइब्रेरी जैसे स्थान पर्यटकों के आकर्षण का केद्र रहते हैं। ऐसे में उदयपुर के लिए गुलाब बाग एक टूरिस्ट हब है। राठौड़ ने इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए।


मूक-बधिर छात्र ने बनाया लाइव स्कैच
शिखा सक्सेना ने बताया कि प्रमुख शासन सचिव मूक बधिर बच्चों के विद्यालय अभिलाषा विशेष विद्यालय ‘पूर्व छात्र मिलन समारोह’ में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुईं। उन्होने पूर्व छात्रों के साथ मिलकर केक काटा और साइन लैंग्वेज इंटरप्रेटर की सहायता से सभी पूर्व छात्रों से बात की और उनका हौसला बढ़ाया। राठौड़ ने इन पूर्व छात्रों के संघर्ष और स्वावलंबन से प्रभावित होकर उन्हे बधाई और शुभकामनाएं दीं। संस्था की चीफ़ एक्जीक्यूटिव रेणु सिंह ने राठौड़ को बताया कि पढ़ाई के साथ साथ यहां के विद्यार्थी स्काउट एंड गाइड, स्पोर्ट्स , आर्ट एंड क्राफ्ट, वोकेशनल ट्रेनिंग आदि में बहुत अच्छा काम कर रहे है. विद्यालय के छात्र नितेश लोहार ने मौके पर ही राठौड़ का स्केच बना कर उन्हें भेंट किया। राठौड़ ने भावेश को कला के क्षेत्र में कैरियर बनाने का सुझाव दिया। उन्होने विद्यालय में नव निर्मित प्रोफ़ेशनल किचन का भी मुआयना किया।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *