ब्लाइंड मर्डर का खुलासा : स्मैकचियों ने कानों में पहनी मुर्की के लिये कुल्हाड़ी-चाकू से वार कर की थी हत्या, एक आरोपी गिरफ्तार

बारां। थाना हरनावदा शाहजी क्षेत्र के गांव भटगांव में चार दिन पहले अधेड़ की हत्या के ब्लाइंड मामले का पुलिस ने खुलासा कर एक आरोपी रामबिलास मीणा पुत्र भंवर लाल (38) को गिरफ्तार किया है। आरोपी भी इसी गांव का रहने वाला है। जिसने अपने एक अन्य साथी के साथ मिलकर कानों में पहनी मुर्कियो के लिए हत्या की थी।


एसपी राजकुमार चौधरी ने बताया कि 21 दिसंबर को मृतक रामदयाल मीणा (50) के भतीजे मुकेश ने शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि रोजाना की तरह सुबह 6:00 बजे उसके चाचा रामदयाल भैंसों को लेकर खेत पर गए थे। शाम को भैंसे घर आ गई। चाचा नहीं आया तो उसने खेत पर जाकर देखा तो वे खेत की मेड़ पर मरे पड़े हुए थे। उनके दोनों कानों में पहनी हुई बालियां नहीं थी, कानों से खून बह रहा था। अज्ञात ने लूट के इरादे से उसके चाचा की हत्या कर दी। रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई।


एसपी चौधरी ने बताया कि घटना की गंभीरता को मध्य नजर रखते हुए एएसपी घनश्याम शर्मा व सीओ तरुण कान्त सोमानी के साथ एसएचओ हरनावदा शाहजी, छबड़ा, कवाई, सारथल, पाली, बापचा, जिला मुख्यालय स्पेशल टीम, डॉग स्क्वाड, एफएसएल टीम द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण कर आवश्यक साक्ष्य जुटाए गए। गठित टीम द्वारा दो दर्जन से अधिक संदिग्ध स्मैकचियों व इस तरह के अपराधों में लिप्त चालनशुदा अपराधियों से पूछताछ की गई।


एसपी चौधरी ने बताया कि वारदात के बाद से ही फरार चल रहे संदिग्ध रामबिलास मीणा को डिटेन कर पूछताछ के बाद घटना का खुलासा किया गया है। घटना की शाम रामबिलास, पाटड़ी निवासी राजू उर्फ राजेश मीणा के साथ स्मैक पी रहा था। नशा करते हुए दोनों ने खेत पर भैंसे चराने आए रामदयाल के कानों की सोने की मुर्कीयां लूटने की योजना बनाई।
कुल्हाड़ी और चाकू लेकर ये खेत पर पहुंचे। जहां एक पेड़ के नीचे झुक कर बैठे रामदयाल के पीछे से उन्होंने उल्टी कुल्हाड़ी से सिर पर वार किया। बेहोश होकर नीचे गिर गए रामदयाल के दोनों कानों की मुर्की तोड़ ली, जिससे एक कान फट गया। बाद में पहचान लिए जाने के डर से राजेश ने चाकू से गला रेत दिया और दोनों एक-एक सोने की मुर्की लेकर अपने-अपने घर चले गए।


अभियुक्त का साथी राजू उर्फ राजेश मीणा फरार है, जिसकी तलाश के लिए टीमों द्वारा सन्दिग्ध स्थानों पर दबीश दी जा रही है। मुलजिम रामबिलास से घटना में प्रयुक्त हथियार व मूर्कियो के संबंध में अनुसंधान किया जा रहा है।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *