राजसमंद साइबर थाना पुलिस की कार्रवाई : वजन कांटे में चिप लगा कर सरिया चोरी करने वाली अन्तर्राज्यीय गैंग का खुलासा, मास्टर माइंड सहित 12 अभियुक्त गिरफ्तार

चुराया गया करीब 26 टन सरिया बरामद कर घटना में प्रयुक्त तीन वाहन भी जप्त

राजसमन्द। जिले की साइबर थाना पुलिस की टीम ने सरकारी, गैर सरकारी प्लांट में लगे वजन कांटे में चिप लगा कर सरिया चोरी करने वाली अन्तर्राज्यीय गैंग का खुलासा कर चिप लगाने के मास्टर माइंड, चोरी के माल के खरीदार सहित 12 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनसे चुराया गया करीब 26 टन सरिया बरामद कर घटना में प्रयुक्त तीन वाहन भी जप्त किए हैं।

एसपी मनीष त्रिपाठी ने बताया कि घटना के संबंध में प्रार्थी सोएब एम भट्ट ने रिपोर्ट दी थी कि उनकी कम्पनी को नाथद्वारा से सरदारगढ़ ब्रॉड गेज रेलवे लाइन का ठेका मिला हुआ है। इसके लिए थाना कांकरोली क्षेत्र के शंकरपुरा गांव में उनका प्लांट है। प्लांट पर लगे हुए ब्रिज के कांटे को चिप से हैक कर करीब ढाई सौ टन स्टील की चोरी की गई है। रिपोर्ट पर साइबर थाना में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई।

उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुये अज्ञात व्यक्तियों की तलाश के लिए एएसपी महेन्द्र पारीक व पुलिस उप अधीक्षक पार्थ शर्मा के निर्देशन एवं साईबर सेल, डीएसटी गठित विशेष टीम द्वारा तकनीकी सहायता से बिहार, मुम्बई व जयपुर में तलाश कर मुल्जिमों व घटना में प्रयुक्त वाहनों के साथ डिटेन किया, जिन्होंने पूछताछ में उक्त घटना करना कबूल किया।

इन्हें किया गिरफ्तार

एसपी ने बताया कि इस मामले में कमल कुमार पुत्र रामधार मेहतो (29) निवासी जिला औरंगाबाद बिहार, जितेन्द्र सिंह पुत्र नारायण सिंह (38) निवासी थाना चारभुजा जिला राजसमन्द, जाविद हुसैन उर्फ भोला उर्फ जीजू पुत्र तक्सीर हुसैन (40) निवासी जिला फिरोजाबाद उत्तरप्रदेश, दिलीप सेंवर पुत्र गुमनाराम सेंवर (26) पेशा ट्रक ड्राईवर निवासी थाना बिजराड़ जिला बाडमेर, कैलाश सेंवर पुत्र विरमाराम (24) पेशा ट्रक ड्राईवर निवासी थाना बिजराड़ जिला बाड़मेर, योगेश उर्फ प्रमोद पुत्र हीरामन (38) ) निवासी जिला धुलिया महाराष्ट्र, श्रवण गुर्जर पुत्र रामलाल (23) निवासी थाना करेडा जिला भीलवाड़ा, किशोर कुमार पुत्र प्रभुराम (27) निवासी थाना रामसर जिला बाडमेर, राजेश कुमार पुत्र विजय भगत (30) निवासी जिला अरवल, बिहार, धनराज पुत्र बालुराम (35) निवासी थाना घाड जिला टोंक, शंकर लाल गुर्जर पुत्र अम्बालाल (32) निवासी थाना माधोराजपुरा जिला जयपुर एवं संजीव पुत्र ओमपाल (37) निवासी जिला मेरठ उतर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया है।

पूछताछ के दौरान अभियुक्तों के द्वारा रेवदर जिला सिरोही, मारवाड़ जंक्शन जिला पाली, रावतभाटा जिला चितौडगढ़ आदि जगह से भी ट्रेलरों से सरिया चोरी करना तथा सरकारी/गैरसरकारी प्लांटों पर चिप लगा कर वजन बढ़ाना कबूल किया है। गहनता से अनुसंधान करते हुए शेष अभियुक्तों की तलाश एवं चोरी किये गये सरियों की बरामदगी के प्रयास जारी है।

तरीका वारदातः-

पूरे मामले का मास्टर माईण्ड जितेन्द्र और जाविद प्लान बनाकर सरकारी/गैर सरकारी प्लांटो को चिन्हित वहां वजन कांटे पर लगे कर्मचारी को पैसों का लालच देकर अपनी टीम में शामिल कर लेते थे। उसकी सहायता से प्लांट पर लगे कांटे में चिप लगा देते है। उसके बाद उसकी मदद से सरियों की गाड़ियां लाने वाले ड्राईवरों के बारे में जानकारी जुटा पैसों का लालच देकर उनको भी टीम में शामिल कर गाड़ियों से सरिये उतार लेते है तथा उन गाड़ियों को एकान्त जगह पर खड़ा कर देते है।

एक्सपर्ट जाविद फ्लाइट से पहुंचता

जब तक चिप संचालित करने वाला एक्सपर्ट जाविद यूपी से नहीं आ जाता तब तक उक्त वाहन डिलीवरी साईट पर नहीं जाते। जाविद फ्लाईट से तथा कभी पर्सनल कार से तुरन्त साईट पर पहुंचता और प्लांट पर लगे कांटे में चिप के लिये बने रिमोट से चुराये सरियों के वजन कम्पनी बिल्टी वजन के बराबर कर देता। ड्राइवर डिलीवरी देकर पूरे माल की रसीद प्राप्त कर लेते। एक ट्रेलर से करीब 8 से 10 टन सरिया रास्ते में ही निकाल लेते है। सम्पूर्ण घटनाक्रम में साथ रहने वाले सभी साथियों को उनके हिसाब से हिस्सा बांट लेते है। जो सरिया उतारा जाता था उसे जितेन्द्र द्वारा अन्यत्र बेच कर सभी को पेमेन्ट ​करता था।
—————

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *